treasure found in the sea

यह घटना साल 2015 की है । जब समुद्री खोज करता को कुछ जहाज के मलबों की आशंका हुई । जिस कारण उन्होंने एक बड़ी पनडुब्बी को समुद्र के नीचे उतारकर उसकी फिल्मोग्राफी की । तब उन्हें पता चला कि, यह जहाज सोने, चांदी, पोकलेन के कप, मिट्टी से बने कई बर्तन और सोने के कई हजार टंग सिक्को से भरा हुआ था ।

इसकी जानकारी सरकार तथा पुरातत्व वैज्ञानिक तक पहुंचाई गई । उन्होंने नजदीक से जांच कर बताया कि, यह जहाज “सैन जोस युद्धपोत (sunken san jose galleon)” है । यह जहाज साल 1708 ईस्वी में दूसरे जहाज से टकराने की वजह से डूबा था ।

“न्यूज़ वीक” में छपी रिपोर्ट के मुताबिक उस समुद्री खजाने में दो जहाजों का मलवा उपस्थित है । साथ ही उन्होंने इसे एक युद्धपोत वाला जहाज कहा । जिसमें 62 बंदूक वाला “सैन जोस ब्रिटिश सेन” भी शामिल है ।

ये भी पढे… इस अजीब घटना को सुनकर आपकी हंसी निकल जाएगी । खाट पर सो रहे किसान को सांप ने काटा उसके बाद किसान ने ये काम किया ।

इसका ऑफिशियल वीडियो “डियागो मोलानो अपेंटे (diego monalo apente)” के ट्विटर अकाउंट में पब्लिश किया गया । इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि फिल्मोग्राफी करते वक्त वहां पर मलबे में कई तरह के बर्तन, सोने, चांदी से बनी अनगिनत वस्तुएं । पोकलेन के कप समुद्र तलहटी पर बिखरे पड़े हैं ।

स्पेन की सरकार ने इस पर प्रतिक्रिया दिखाते हुए इस में उपस्थित सभी खजाने को बाहर निकालने का आदेश दे दिया । जिससे पुरातत्व वैज्ञानिकों की सभी समस्याओं का हल किया जा सके । बता दे खजाना निकालने के लिए समुद्र तल से 3100 फिट नीचे जाना पड़ेगा । जो वैज्ञानिक के लिए सबसे बड़ी समस्या का कारण बना हुआ है ।

वर्तमान में वाशिंगटन रिपोर्ट की एक पोस्ट के जरिए ज्ञात हुआ कि, उन्होंने इस खजाने को पूर्ण रूप से निकाल लिया है । और संग्रहालय में सुरक्षित रख दिया है । जिस पर रिसर्च चल रही है । बताया जा रहा है कि, इसमें उपस्थित कॉइंस, मूर्तियां, मुखोटे, मिट्टी के बर्तन और कई विचित्र चीजें मिली हैं । जो कि एक नई सभ्यता की ओर इशारा कर रही है । कुल खजाने की संपत्ति 17 मिलियन डॉलर आकी गयी |

ये भी पढे… समुद्र से बाहर आई “जलपरी”, वीडियो देखकर लोग अचंभे में आ गये । आप भी देखे |

One thought on “समुद्र में मिला 17 मिलियन डॉलर का खजाना, 200 सालों से छुपा था । वैज्ञानिक भी देखकर हुए हैरान ।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.